Are you happy now?


विश्व खुशहाली रिपोर्ट 2019, संयुक्त राष्ट्र के लिए सतत विकास समाधान नेटवर्क द्वारा 20 मार्च को जारी की गई। इस तिथि को संयुक्त राष्ट्र ने अंतर्राष्ट्रीय खुशी का दिन घोषित किया है।आय, स्वतंत्रता, विश्वास, स्वस्थ जीवन प्रत्याशा, सामाजिक सहायता और उदारता : जैसे छह प्रमुख अवयवों का समर्थन करने वाले 156 देशों को विभिन्न स्थानों पर शुमार किया है। लगातार दूसरे वर्ष सबसे अधिक खुश … Continue reading Are you happy now?

Sticky post

चुनावी सर्दी में दलित बजरंगबली


“बजरंगबली एक ऐसे लोक देवता हैं, जो स्वयं वनवासी हैं, निवासी हैं, दलित हैं, वंचित हैं. भारतीय समुदाय को उत्तर से लेके दक्षिण तक, पूरब से पश्चिम तक, सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं।” उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा अलवर जिले के मालाखेड़ा की एक चुनावी रैली में बड़बोले बयान के बाद सोशल मीडिया पर भूकंप और मुख्यधारा की मीडिया में सुनामी … Continue reading चुनावी सर्दी में दलित बजरंगबली

रावण Laughing@दशहरा


#hehahaha…. 🙂 🙂 खुश तो बहुत हो रहे होंगे साल दर साल मेरी बड़ी- बड़ी पुतलो को आग लगा कर के…फूंक के ! कितना प्रदूषण करते हो… वायु, ध्वनि से लेकर आकाश तक के निर्मलता को दूषित कर देते हो…  हां हुई थी मुझसे पाप एक दफा, बहन के अपमान से तिलमिलाकर, जिस पाप की सजा मे, मैं हर साल जल रहा हूँ..!  जो पाप अब तुम्हारे यहाँ fashion … Continue reading रावण Laughing@दशहरा

भारत में साक्षरता और शिक्षा व्यवस्था का पोस्टमार्टम रिपोर्ट 2018


2011 की जनगणना के अनुसार, भारत में सात वर्ष और उससे अधिक उम्र के व्यक्ति जो किसी भी भाषा में समझ के साथ पढ़ और लिख सकते हैं, साक्षर माना जाता है। जो व्यक्ति केवल पढ़ सकता है लेकिन लिख नहीं सकता, साक्षर नहीं है। इसके अतिरिक्त, एक व्यक्ति को साक्षर के रूप में दर्जा प्राप्ति हेतु कोई औपचारिक शिक्षा या न्यूनतम योग्यता प्राप्त करने … Continue reading भारत में साक्षरता और शिक्षा व्यवस्था का पोस्टमार्टम रिपोर्ट 2018

हिंदी Vs भारतीय भाषाएँ एवं बोलियां


टाइम्स ऑफ़ इंडिया में प्रकाशित आलेखानुसार 2011 के जनगणना के आधार पर हिंदी बोलने वाले लोगों में 2001 में 41.03 फीसदी की तुलना में 2011 में इसकी संख्या बढ़कर 43.63% हो गई है। भारत में दूसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा बंगाली हैं। तेलगू को तृतीय पायदान से अपदस्त कर, मराठी ने आकड़ो में काफी उलटफेर कर बाजी अपने नाम कर ली हैं। संविधान … Continue reading हिंदी Vs भारतीय भाषाएँ एवं बोलियां

खैनी-चूना सा ये इश्क़ हैं… 💓


बड़े-बड़े नामी डाकटर साहेब लोग अकसर यह लैक्चर बकते पाए गए हैं कि तंबाकू-चूने के मिश्रण को होठों और गालों के अंदर चुटकी में भर कर दबाने की आदत मुंह के कैंसर को दवात देती हैं। अब देखो दादा, हमने कोनों रिसर्च या MBBS तो किया नही हैं, न ही मुझे सरकार के ‘ये मुकेश हैं‘ वाले विज्ञापनी दावों पर प्रश्नचिन्ह लगा कर चक्की पिसिंग … Continue reading खैनी-चूना सा ये इश्क़ हैं… 💓

Diversity in unconditional friendship


Last week, I was searching  something in old books lying on the book shelf of my room. A wide collection of Books from the initial Nursery class to 10th-12th were covered themselves with dust sheet. While eliminating the dust from books, I got an old textbook of Class 6 titled Social and Political Life-I published by NCERT. A short story in its very first chapter titled ‘Understanding Diversity’ … Continue reading Diversity in unconditional friendship

बोराये मन को बहलाता हूँ…!


मैमन्ता मन मारि रे, घट ही माहैं घेरि । जबहिं चालै पीठि दे, अंकुस दै-दै फेरि ॥ —कबीर (भावार्थ – मद-मत्त हाथी को, जो कि मन है, घर में ही घेरकर कुचल दो ।अगर यह पीछे को पैर उठाये, तो अंकुश दे-देकर इसे मोड़ लो ।) हृदय में उमड़ती भावनायें व मस्तिष्क में उमड़ा विचार कितना क्षणभंगुर होता हैं न..। मन-मस्तिष्क में कई बार इतने … Continue reading बोराये मन को बहलाता हूँ…!

खुद को प्रदूषित होने से बचाइये..!


आचार, विचार और संस्कार में हो रहे अंधाधुंध संक्रमणों के मध्य…..आत्मवलोकन करते हुए प्रदूषण वायरस के प्रभाव से स्वयं को संक्रमित व प्रदूषित होने से बचाइये, बाकी हमारे राम जी सबकुछ ठीक कर देंगे। Continue reading खुद को प्रदूषित होने से बचाइये..!

जिंदगी में ओवर लोड़ मत लीजिए…


चेहरा क्या देखते हो, दिल मे उतर के देखो ना… मौसम पल मे बदल जाएगा पत्थर दिल भी पिघल जाएगा मेरी मोहब्बत मे है कितना असर देखो ना चेहरा क्या देखते हो… हाँ, माना कि शारिरिक हुलिया और मन-मस्तिष्क में डोल रहे लूलिया का प्रतिबिंब चेहरे के दर्पण की चमक से ही साफ साफ झलकता हैं। लेकिन जिस दिन हम-आप बूढ़े हो जाएंगे न…तो ये … Continue reading जिंदगी में ओवर लोड़ मत लीजिए…

लव यू फगुनिया 💓


डिअर फगुनिया, उमस भरी आजकल की लौ वोल्टेज रातों में करवटे दाएं से बाएं और बाएं से दाएं बदलते हुए रात बिताने वाला, तुम्हारे इस इश्क़फिरे गुलाम की ओर से सुबह की गुड़ वाली मॉर्निंग, दोपहर में हैप्पी वाली आफ्टरनून और शाम को कूल वाली इवनिंग स्वीकार करो देवी । बाकी गुड नाईट और स्वीट ड्रीम रतिया को हम व्हाट्सएप पर बतिया लेंगे। और तुम … Continue reading लव यू फगुनिया 💓